Header Ads

Shubhapallaba English Portal
  • Latest Post

    Main Slider

    5/slider-recent
  • Poems

    5/Poem/feat-tab

    Stories

    5/Story/feat-tab

    Travelouge

    5/Travelogue/feat-tab

    प्रकाश

    November 04, 2022 0

    जब कभी यूं लगे तुमको की घोर अंधेरा छाया है रास्ता आगे धुंदली है और साथ छोड़ा तेरा साया है। भरोसा जरूर रखना तुम ये अंधेरा अवश्य छट जाएगा कारी...

    ऐ दिल तुझे ढूंढू कहाँ?

    October 21, 2022 0

    बोल ना दिल तुझे ढूंढू कहां छुपा है किस गली में तू है तेरा ठिकाना कहां उन रास्तों का नक्शा तो दिला दे जिन्हें पढ़ में पोहोंचू  उस गली उस शहर ...

    तेरे बिना

    September 14, 2022 0

    कभी मंज़िल थी, अब हमसफ़र है, कभी ख्वाब थी, अब रहगुजर है। दुर हुआ अंधेरा, जब आया सबेरा, खुला आसमान भी बन गया बसेरा । तू कहे तो हाथ पकड़ कर ले...

    उठो बुड़बक

    July 20, 2022 0

    उठो धनुर्धर ! चाप धरो कुछ घात लगाकर बैठे हैं । उठो ओ ! पलकें, ज्वार धरो देखो के कितने प्यासे हैं व्यर्थ बहे उनके खातिर रत्ती भर जिनको चिंता ...

    रब-राखा

    June 23, 2022 0

    ये जो फिर से दिल टूटा है... इसकी सजा हम किसको दें??? इसबारी की इल्जाम, किसके माथे पर फोड़ दें?? गलत खुद होते तो... हर सजा हमें कुबूल होती, ग...

    छोटा सा गाँव है मेरा

    May 19, 2022 0

    भले ही इतिहास के पन्नों पे  ना हो उसका नाम  ऍसा है मेरा गाँव का नाम !  सूरज के उगते ही  चिड़ियाँ की मधुर गाना  किसान हल को लेकर खेती पे जाना...

    गुरु पूजन

    May 04, 2022 0

    सुनो सुनाओ एक कहानी जीवन का वो सर है  आज है हम जो कुछ भी गुरु आपका आशीर्वाद है, था जब मैं साथ साल का  शिक्षक दिवस और था मिलेगी चॉकलेट या मिठ...

    Post Top Ad

    Shubhapallaba free eMagazine and online web Portal

    Post Bottom Ad

    Shubhapallaba Punjabi Portal